बेपरवाही कि हद लेकर जिते है
कभी कम कभी ज्याद पिते है
जिन्ऩदगी से मेरा दिल उब गया
बस आपका नाम लेकर जिते है