दिल से रोये मगर होठों से मुस्करा बैठे,
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बैठे,
वो हमें एक लम्हा न दे पये
जिस के लिए हम अपनी ज़िन्दगी गवा बैठे……..♥ ♥ ♥