एक सूरत से मुझे इतना प्यार क्यों है.
इंकार करने पर बी मुझे इकरार क्यों है.
मेरी तकदीर में उस से मिलना नहीं,
फिर भी हर मोड़ पर उसका इंतजार क्यों है